गवर्नमेंट टीचर कैसे बने (government teacher kaise bane); दोस्तों हमारे देश में कैंडिडेट्स की सबसे फेवरेट जॉब टीचिंग मानी जाती है। बहुत से ऐसे लोग होते हैं जिन्हें पढ़ाना काफी पसंद होता है। एक ऐसी जॉब है जिसमें अच्छी सैलरी मिलती है ,सम्मान मिलता है और इसके अलावा इस जॉब के माध्यम से आप सोशल वर्क भी कर सकते हैं। सरकार अलग-अलग स्तरों पर गवर्नमेंट टीचर के लिए परीक्षाएं करवाती है। अगर आप भी टीचर बनना चाहते हैं तो राज्य और केंद्र दोनों ही स्तरों पर आपके लिए कोर्स और परीक्षाएं उपलब्ध है।

गवर्नमेंट टीचर कैसे बने (government teacher kaise bane)?

आइये यह जानते हैं कि Government Teacher Kaise Bane, इस पोस्ट में आपको Government Teacher Kaise Bane से सम्बंधित Course और परीक्षाओं के बारे में भी बताया जाएगा जानकारी हासिल करके आप भी आसानी से Government Teacher बन सकते हैं।

गवर्नमेंट टीचर कैसे बने (government teacher kaise bane)?

गवर्नमेंट टीचर क्या होते हैं?

गवर्नमेंट टीचर (Government Teacher) की नियुक्ति सरकार द्वारा की जाती है यह बच्चों को प्राथमिक से लेकर उच्च शिक्षा देने के योग्य माने जाते हैं। इनका मुख्य काम बच्चों को शिक्षा देना और उनके विकास में सहयोग करना होता है। बच्चों को हर स्तर पर विभिन्न विषयों में शिक्षा देना गवर्नमेंट टीचर का मुख्य उद्देश्य होता है। गवर्नमेंट टीचर (Government Teacher) शिक्षा के माध्यम से समाज में सहयोग करते हैं और परिवारों को आर्थिक रूप से योग्य बनाने में सहायता करते हैं।

गवर्नमेंट टीचर बनने (government teacher kaise bane) के लिए शैक्षिक योग्यता

कैंडिडेट को गवर्नमेंट टीचर (Government Teacher) बनने के लिए विशेष डिग्री/ डिप्लोमा की आवश्यकता होती है जो निम्नलिखित है।

government teacher kaise bane

B.Ed(bachelor in education)

गवर्नमेंट टीचर (Government Teacher) बनने के लिए B.Ed सबसे पॉपुलर कोर्स माना जाता है। B.Ed करने के लिए छात्र सबसे पहले किसी भी विषय से ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल करें। उसके बाद B.Ed करने के लिए एंट्रेंस एग्जाम (Entrance Exam) देना होता है।

जो भी छात्र एंट्रेंस एग्जाम (Entrance Exam) को क्लियर करते हैं उन्हें यह कोर्स करने के लिए सरकारी कॉलेज प्रोवाइड कराया जाता है।छात्र प्राइवेट कॉलेज से भी B.Ed कोर्स कर सकते हैं। यह 2 वर्ष का कोर्स होता है, इसमें कैंडिडेट के लिए ट्रेनिंग भी होती है। कैंडिडेट खुद सरकारी स्कूलों में जाकर इंटर्नशिप करते हैं ,और सीखते हैं कि कैसे पढ़ाया जाता है।

B.ed कोर्स करने वाले छात्रों को जूनियर स्तर यानी कक्षा 6 से लेकर 12 तक विद्यार्थियों को पढ़ाने का अवसर मिलता है।

Join Telegram Group   Click Here
Join WhatsApp Group Click Here

D.el.ed (diploma in elementary education)

गवर्नमेंट टीचर (Government Teacher) बनने के लिए D.el.Ed कोर्स भी कर सकते हैं। यह आपको डिप्लोमा लेवल का सर्टिफिकेट प्रदान करती हैं। कोई भी छात्र जिन्होंने ग्रेजुएशन किया है वह D.el.ed कोर्स कर सकते हैं।

इस कोर्स की अवधि 2 साल है, इसे 4 सेमेस्टर में बांटा गया है। प्रत्येक सेमेस्टर में छात्रों को लगभग 1 महीने तक सरकारी स्कूलों में जाकर इंटर्नशिप  भी करनी होती है।

अगर छात्र D.El.ed को गवर्नमेंट कॉलेज से करना चाहते हैं तो DIET (district institute of Education and training) से कोर्स कर सकते हैं इसके अलावा कई प्राइवेट कॉलेज भी d.el.ed सर्टिफिकेट प्रदान करते हैं।

जो छात्र प्राइमरी स्तर यानी PRT टीचर बनना चाहते हैं और कक्षा 1 से लेकर 5 तक के बच्चों को पढ़ाना चाहते हैं उन्हें D.el.ed कोर्स करने की आवश्यकता होती है।

NTT

NTT (National teacher training) का कोर्स भी काफी पॉपुलर माना जाता है इस कोर्स को करने वाले कैंडिडेट pre primary बच्चों को पढ़ा सकते हैं। कैंडिडेट जिसने ग्रेजुएशन किया हो वह इस कोर्स को कर सकता है।

गवर्नमेंट टीचर बनने (government teacher kaise bane) के लिए क्वालीफाइंग एग्जाम

गवर्नमेंट टीचर की नियुक्ति के लिए राज्य और केंद्र दोनों ही स्तरों पर क्वालीफाइंग एग्जाम कराए जाते हैं। जिन्हें हम TET और CTET के नाम से जानते हैं।

TET exam

TET (Teacher eligibility test) की परीक्षा राज्य सरकारों द्वारा आयोजित की जाती है। इस परीक्षा में केवल वही छात्र बैठ सकते हैं जिन्होंने B.Ed या D.el.ed कोर्स किया हो। इस परीक्षा में 150 अंकों के 150 प्रश्न पूछे जाते हैं। इसमें कोई माइनस मार्किंग (Negative Marking) नहीं होती है। परीक्षा को क्वालीफाई करने के लिए कैंडिडेट को कम से कम 150 में से 90 अंक प्राप्त करना आवश्यक होता है।

TET की परीक्षा में दो पेपर कराए जाते हैं-

प्राथमिक स्तर पर TET की परीक्षा

जो छात्र प्राथमिक स्तर पर शिक्षक बनना चाहते हैं उनके लिए TET पेपर 1 क्वालीफाई करना जरूरी होता है इसमें मुख्य रूप से पांच विषय की परीक्षा होती है। सभी प्रश्न बहुविकल्पीय होते हैं।

उच्च स्तर पर TET की परीक्षा

उच्च स्तर यानी कक्षा 6 से लेकर 8 तक तक के विद्यार्थियों को पढ़ने के लिए tet paper 2 को क्वालीफाई करना जरूरी होता है। इस परीक्षा में मुख्य रूप से 4 विषयों से प्रश्न पूछे जाते हैं।

सभी 150 प्रश्न बहुविकल्पीय होते हैं, और 150 अंकों के होते हैं।

CTET exam

CTET (Central teacher eligibility test) केंद्र सरकार द्वारा आयोजित कराई जाती है। इस परीक्षा को देने के लिए छात्रों को b.ed या d.el.ed कोर्स करना जरूरी होता है। CTET को भी प्राथमिक और उच्च दो स्तरों पर बांटा गया है। गवर्नमेंट टीचर बनने के लिए आपको प्राथमिक स्तर पर ctet पेपर 1 को क्वालीफाई करना जरूरी है जबकि स्तर पर गवर्नमेंट टीचर बनने के लिए पेपर 2 को क्वालीफाई करना जरूरी है।

government teacher kaise bane

गवर्नमेंट टीचर बनने (government teacher kaise bane) के लिए शिक्षक भर्ती परीक्षा

B.ed या D.el.ed कोर्स को कर लेने और उसके बाद TET या CTET परीक्षा में क्वालीफाइंग अंक प्राप्त कर लेने के बाद छात्रों को शिक्षक भर्ती परीक्षा के आयोजन में भाग लेना होता है।

SUPERTET परीक्षा

शिक्षक भर्ती परीक्षा को SUPERTET के नाम से भी जाना जाता है। इनका आयोजन राज्य सरकारों द्वारा कराया जाता है। इस परीक्षा को मुख्य रूप से कक्षा 1 से लेकर 5 तक के विद्यार्थियों के लिए शिक्षक नियुक्त करने के लिए होता है।

TGT(Trained Graduate Teacher) परीक्षा

TGT की परीक्षा में वही छात्र बैठ सकते हैं जिन्होंने ग्रेजुएशन के बाद b.ed का कोर्स किया हो। और उसके बाद TET या CTET के पेपर 2 क्वालीफाई किया हो। TGT की परीक्षा पास करने वाले छात्र 6 से लेकर 10 तक के विद्यार्थियों को पढ़ा सकते हैं।

PGT(Post Graduate Teacher) परीक्षा

PGT परीक्षा के लिए कैंडिडेट का पोस्ट ग्रेजुएट होना जरूरी है। कैंडिडेट ने किसी भी विषय से पोस्ट ग्रेजुएशन किया हो और इसके साथ-साथ b.ed का कोर्स भी किया हो तब जाकर वह वह कक्षा 11 और 12 के विद्यार्थियों को पढ़ाने के योग्य माना जाता है

गवर्नमेंट टीचर की सैलरी (Government Teacher Salary)

बात करें गवर्नमेंट टीचर की सैलरी की ,तो यह सभी स्तरों पर अलग-अलग होती है। गर्वनमेंट टीचर की सैलरी काफी हद तक उसके अनुभव पर निर्भर करती है

PRT टीचर की शुरुआती सैलरी ₹44900 तक होती है। तो वही एक TGT टीचर की कुल सैलरी लगभग 56,246 प्रति माह है, इसमें मूल वेतन 44,900 रुपए प्रति माह मिलता हैं। इसके अलावा PGT टीचर की शुरुआती सैलरी 47,000 से लेकर 60,000 रूपये तक हो सकती है।

Government Teacher Kaise Bane Important Links
government teacher kaise bane government teacher kaise bane
  Follow us on Facebook Click Here
 Follow us on Instagram Click Here
Join our Telegram Group Click Here
Join our WhatsApp Group Click Here
Follow us on Google News  Click Here
Want to know more about us? Click Here government teacher kaise bane
Have you any Queries or Suggestions? Write Us government teacher kaise bane
Sarkari Job Alert Click Here
Download Study Materials Click Here government teacher kaise bane
Join Our Free Quiz and Mock Test Click Here
government teacher kaise bane government teacher kaise bane
Sharing is Caring

1 thought on “No १ गवर्नमेंट टीचर कैसे बने (government teacher kaise bane)?”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top